NDA GA Bipolarization: 30, 20, 50: What India Needs

The original version of General Electric's cir...
The original version of General Electric's circular logo and trademark. The trademark application was filed on July 24, 1899, and registered on September 18, 1900 (Photo credit: Wikipedia)
थर्ड फ्रंट तो था ही नहीं। २०१४ में। और राहुल भी उम्मेदवार नहीं थे। सोनिया ने सक्रिय पहल किया। तो बीजेपी को ३०% और काँग्रेस को मिला २०% ---- और दुर दुर तक कोसो तक एक सफ़ेद धुँवा है फैला हुवा जहाँ ५०% मत बिखरे पड़े हैं। वो थर्ड फ्रंट नहीं है। इसी लिए मैंने कहा देशकी राजनीती एक कॉमेट की तरह है। न unipolar, न bipolar, न multipolar. सफेद धुँवा फैला हुवा है। इससे देश को घाटा है। देश के के हित में है कि एक bipolarization हो जाए। लोकतंत्र को अर्थतंत्र को ये चाहिए।

CBI ने जो रेड किया केजरीवाल के ऑफिस में ये तो बहुत बड़ी बात हो गयी। खबर मिल रहा है कि मोदी ने नहीं करवाया। तो ये क्या हुवा? ये तो एक कु हो गया। इससे पहले जिस सक्स को सीबीआई ने तंग किया वो आज प्रधान मंत्री है। उससे पहले जभी लालु को तंग किए। कुछ समय बाद अंक गणित लालु के पक्ष में आ गयी थी। Waste कर दिया गया।

General Electric कंपनी में है १० साल में लीडरशिप चेंज होता है। तो एक प्रक्रिया है एक रश्म है। भारत में कहा जाता है CBI संसद के अधीन है, पाकिस्तान में ISI पैरेलल गवर्नमेंट के तरह है। कहीं भारत में भी वो समस्या तो नहीं। CBI में कोई सेल है जो data crunching करती है और निर्णय करती है अगला बन्दा ये है। बहुत ही गलत बात है। You can't second guess the people like that. Especially, you can't act upon it to try and influence the democratic process.

Grand Alliance की बात शुरू हुवी है बिहार से। वो बात बिहार से बाहर जाती है कि नहीं वो अभी देखना बाँकी है।

सारे देश के सभी चुनाव पाँच साल में एक बार किए जाने की बात हो रही है। वो गलत होगी। लेकिन पाँच साल में दो बार हो तो शायद सही है। केंद्र, राज्य और स्थानीय। ढाई साल में एक ऐतवार को। बुथ पर जाना है।



Comments

Popular Posts