बिहार, उत्तर प्रदेश और मोदी/BJP



AAP के दिल्ली sweep करने के बाद मेरे को लगा शायद AAP बीजेपी को २०१७ में UP में challenge कर सके। लेकिन AAP के भितर जो infighting का दौर चला है उससे मेरे को लगने लगा है २०१७ में BJP २०१४ के तरह फिर से UP sweep करेगी। SP का तो बुरा हाल है। जनता परिवार एक हो रही है, ये लोकतंत्र के लिए अच्छी बात है। क्योंकि वो जब फुटे थे तो गलत सतही कारन से फुटे थे। अब एक हो रहे हैं। क्यों कि रास्ता नहीं दिख रहा है। मोदी ने २०१४ में भारत के राजनीति में बहुतो को endangered species बना दिया।

जनता परिवार नीतिश के नेतृत्वमें एक होते तो लगता चलो ये भी development man हैं। लेकिन मुलायम थके हुवे लोग हैं। BJP में आडवाणी, जनता परिवार में मुलायम -- दोनो थके हुवे लोग हैं। Private sector में दोनों को retirement मिल गइ होती। नीतिश को बुरा लगा कि आडवाणी का जगह मोदी ने क्यों ले लिया? इसीलिये वो अपना जगह मुलायम को दे रहे हैं। नीतिश के कारण मुलायम को उत्तर प्रदेश में जित न भी मिल सकती है, लेकिन ये गारंटी है कि मुलायम से नीतीशको बिहार में घाटा है नाफा कोइ नहीं। मुलायम क्लियर कट Non Development Man रहे हैं। उत्तर प्रदेश को मुलायम ने गरीब नहीं बनाया, उत्तर प्रदेश पहले से गरीब राज्य था। लेकिन उस गरीब उत्तर प्रदेश को मुलायम ने ऊँचा भी तो नहीं पहुँचाया। ज्यों का त्यों छोड़ दिया। एक मंडल wave था देश में --- तब मुलायम आगे आए। लेकिन देश में अब एक development wave है। मोदी खुद जन्मसे तेली, बनिया कास्ट में पैदा हुवा आदमी। यदि Mandal का आज कोइ relevance है तो मोदी खुद उसके चेहरा हैं।



तो अभी मेरे को लग रहा है BJP २०१७ में UP sweep करेगी। (१) UP भारतका heartland state है। (२) अब तो UP मोदी का home state हुवा। वाराणसी से MP हैं वो। (३) राज्य सभा में अपना ताकत बढ़ाने के लिए BJP के लिए UP में राज्य सरकार बनाना बहुत जरुरी है।

भारत को Third World Country बनाने में UP और बिहार का बहुत बड़ा हाथ है। जनसंख्या दोनों का इतना ज्यादा है। गरीबी इतनी ज्यादी है। नहीं तो गुजरात को देखो तो वो युरोप के  दो चार देशको छोड़ कर बाँकी सबसे आगे है। तो मोदी के सपने के लिए UP, बिहार और Northeast का बहुत बड़ा strategic महत्व है।

UP तो sweep है। Bihar is less clear cut. But there also there are no guarantees Nitish will win. Laloo and Nitish coming together does not necessarily mean they will win. Yahoo and Microsoft coming together on search did not make a dent in Google's market share. The opposite happened. Google's share increased. They might win. But again, they might not.



I think Modi is using the Land Acquisition Bill as a wedge issue to pry open the state governments in Bihar and Uttar Pradesh from his opposition's hands. He will sell the Bill hard on the campaign trail. I mean, he won me!

Bihar later in the year is not like Delhi. In Bihar it is a coin toss right now. It could go either way. And if the tilt is far enough, it might even lead to a sweep.

I am beginning to think perhaps Nitish walking away from the BJP two years back was a bad move. For the first major politician in India to have called Modi a future Prime Minister, he perhaps miscalculated. He might be months away from political retirement. That will be a Shakespearean tragedy. He has been the best Bihari Chief Minister of my lifetime.


Comments

Popular Posts