मोदी और सौर्य उर्जा

ये देखो मोदी ने क्या किया: मोदी और सौर्य उर्जा: From 3 Gigawatts To 100 .

मोदी ने ढाका में कहा बंगलादेश और भारत के बीच की बोर्डर डिस्प्यूट जो solve किया, उसके लिए उनको और बंगलादेश के प्रधान मंत्री को नोबेल पुरस्कार मिलना चाहिए। सही कहा। पिछले पचास साल में solve नहीं हुइ थी, मोदी ने युँ solve कर दिया। दुनिया को चाहिए मोदी को नोबेल पुरस्कार दे और कहे, आप ने करना है कि इजराइल और पलेस्टाइन को भी इस बात पर मदत कर दो और एक और नोबेल पुरस्कार ले जाओ उसके बाद।

न जाने जमीन में क्या है --- देश के भितर लैंड बिल पर उतना ज्यादा उठापठक, इजराइल और पलेस्टाइन के बीच विश्व राजनीति हिला देनेवाली टेंशन।

एक और नोबेल पुरस्कार मोदी को मिलनी चाहिए। अल गोर ने कुछ किया नहीं, काम तो कुछ किया नहीं, सिर्फ एक डाक्यूमेंट्री फिल्म बनाई। और उस पर उनको नोबेल पुरस्कार मिल गया। मेरे को कोइ शिकायत नहीं। लेकिन मोदी ने तो काम किया है। १०० गीगावाट कोई मजाक नहीं। ये तो सिर्फ शुरुवात है --- आगे जा के राजस्थान में इतनी ज्यादी सुरजकी रोशन है, ५०० गीगावाट और बड़े मजे में आ सकती है --- ५०० आ सकती है तो १,००० भी आ सकती है। कोयले को phase out करो। लोगों को फेंफड़े में दिक्कत हो रही है।

Africa Deserves To Manufacture
Africa Can Save The World



मैं बहुत बहुत साल के बाद फिर से योग करने जा रहा हुँ ---- उस बात का श्रेय भी मोदी को। Yoga is a huge contribution to world peace. 

Comments

Popular Posts