अगर बिहार में बीजेपी हार जाती है

(Sitting L to R)Rajendra Prasad and Anugrah Na...
(Sitting L to R)Rajendra Prasad and Anugrah Narayan Sinha during Mahatama Gandhi's 1917 Champaran Satyagraha (Photo credit: Wikipedia)
अगर बिहार में बीजेपी हार जाती है तो इसका मतलब ये नहीं होगा कि मोदी पर से बिहार के लोगों का विश्वास उठ गया है। वो तो २०१९ में पता चलेगा। Bihari voters are smart. They know the difference between a central government and a state government. They are not like the media people who keep making it sound like this 2015 election in Bihar is a referendum on Modi.

जो मोदी को मैंडेट मिला है वो लोगों ने पाँच साल के लिए दिया हुवा है। २०१९ तक he is good. 

Comments

Popular Posts